बिहार के सीएम नीतीश आए फुल फॉर्म में

0
122

बदले जाएंगे एक साथ 400 कर्मी

बिहार में लॉकडाउन तो खत्‍म कर दिया गया है, लेकिन स्‍कूल, कॉलेज और कोचिंग खोलने की इजाजत नही दी गई है, लॉक डाउन खत्‍म होने के बाद सीएम नीतीश कुमार फुल फॉर्म में आ गए है,  सीएम जल्द ही बड़ा फेरबदल करने जा रहे हैं। पटना जिले के विभिन्न कार्यालयों में तीन साल से अधिक समय से तैनात कर्मचारियों का तबादला किया जाएगा। जिले में लगभग 400 कर्मचारी ऐसे चिन्हित किए गए हैं जो एक कार्यालय में 3 साल से अधिक समय तक काम कर रहे हैं। जिला स्थापना शाखा में ऐसे कर्मचारियों की सूची तैयार की जा रही है। ये प्रखंड, अंचल अनुमंडल और जिला स्तरीय अधिकारियों के कार्यालय में तैनात हैं। 2 साल पहले 200 कर्मचारियों का स्थानांतरण तत्कालीन डीएम कुमार रवि के निर्देश पर किया गया था। 31 मई को जिलाधिकारी ने 23 अधिकारियों के कार्यों का बंटवारा करते हुए उन्हें विभिन्न विभागों में तैनात किया था। इनमें अन्य जिलों से तबादला होकर आए 8 सीनियर डिप्टी कलेक्टर तथा 8 डिप्टी कलेक्टर स्तर के अधिकारी शामिल हैं। अधिकारियों का कहना है कि अधिकारी वर्ग में भी कई ऐसे हैं, जिनका 3 साल कार्यकाल पटना जिले में पूरा हो गया है।

ऐसे अधिकारियों की भी राज्य सरकार के स्तर पर इस माह स्थानांतरण किया जा सकता है। जिला स्थापना शाखा में कर्मचारियों की सूची तैयार किए जाने की सूचना मिलते ही पैरवी की भी भीड़ लगने लगी है। स्थापना उप समाहर्ता अशोक कुमार तिवारी ने बताया कि जिन कर्मचारियों का 3 साल से अधिक समय हो गया है, उनकी सूची तैयार की जा रही है। इसे डीएम के समक्ष रखा जाएगा। उसके बाद उनके स्थानांतरण पर मुहर लगाई जाएगी। 8 साल से जमे हैं 9 नाजिर पटना जिले के अंचलों में 9 ऐसे नाजिर मिले हैं जो पिछले 8 सालों से संबंधित अंचलों में काम कर रहे हैं। इन नाजिर की भी सूची तैयार की जा रही है। अधिकारियों का कहना है कि 2020 में ही संबंधित नाजिर का स्थानांतरण किया जा रहा था लेकिन कोरोना के चलते स्थानांतरण रोक दिया गया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here