दवा के रूप में शराब का सेवन हो तो कोई हर्ज नही

0
118

बोले बिहार के पूर्व सीएम जीतनराम मांझी   

नीतीश सरकार में काम बन जाने के बाद भी नही सु धर रहे पूर्व सीएम जीतनराम मांझी, महागबंधन में थे तो एक सीअ लाने में कामयाब नही हुए, एनडीए में आए तो तीन सीटे मिल गयी और बेटा को बना लिए मंत्री, फिर नही सुधर रहे उनके बोल, उन्‍होंने गुरूवार को बिहार में शराबबंदी को लेकर एक बार फिर नीतीश सरकार पर सवाल उठाया है. उन्होंने कहा कि शराबबंदी कानून की फिर से समीक्षा होनी चाहिए. शराब बंदी को लेकर शुरू से ही हमारा नीतीश कुमार से मतभेद रहा है. जीतन राम मांझी ने ये भी कहा कि हमने शुरू से कहा है कि अगर दवा के रूप में शराब का सेवन किया जाए तो वो हानिकारक नहीं बल्कि फायदेमंद ही है. आज शराब बंदी को सफल बनाने के लिए प्रशासन जरूरत से ज्यादा तत्पर है. किसी भी चीज की अति खराब होती है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here