बाबरी ढ़ांचा गिराने का कोई अफसोस नही

0
156

बोली भाजपा प्रत्याशी साध्वी प्रज्ञा
चुनाव में तो कई पहलवान उतरते है, लेकिन जितते एक है, पर चुनाव जितने के लिए सभी प्रत्याशियों का जुवान फिसल रहे है, जो समाज के लिए शुभ संकेत नही है, पहले भोपाल के इंका प्रत्याशी दिग्यविजय सिंह के बोल बिगड़े तो वहा से भाजपा प्रत्याशी साध्वी प्रज्ञा बिगड़े बोल सुधर नही रहा, उन्होंने तो रविवार को भोपाल में पत्रकारों से बात कहा, उन्हें बाबरी मस्जिद का ढ़ांचा गिराने का कोई अफसोस नही बल्कि गर्व है। मर्यादा पुरुषोतम राम उनके आर्दश और प्रभु है, इस बयान के बाद साध्वी एक वार फिर विवादो में आ गयी है, उन्होंने मुंबई आतंकी हमले में मारे गए शहिद एक पुलिस अधिकारी के खिलाफ विवादित बयान दे चुकी है, चुनाव आयोग ने उनके इस बयान पे संज्ञान लेते हुए 24 घंटे के अंदर जबाव देने को कहा है, साध्वी ने आयोग को अभी एक का जबाव दिए नही कि आयोग ने फिर दूसरे बयान पर उन्हें नोटिस थमा दी। साध्वी ने चुनाव आयोग के नोटिस के सवाल पर कही, आयोग को नोटिस का जबाव विधिवत तरीके से भेज दी जाएगी। लेकिन भागवान श्री राम हिन्दुओ के आर्दश है, वहा के देव स्थान 70 सालो सुरक्षित नही रहा, एक दल के लोगो के इशारे पर मुझे एक मामले में फंसाया गया, और मुझसे झूठे उगलवाने के लिए थर्ड डिग्री का प्रयोग किए गए, 24 दिनो तक भूखा रखा गया, मारपीट की गयी, पानी पीकर जिवीत रहा। भोपाल के इंका प्रत्याशी दिग्यविजय सिंह के सवाल पर साध्वी ने कहा, वह तो महिसासूर है, इंका वाले कहे तो वह किसी के सर पर हाथ रखने को तैयार हो जाएंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here