चुनाव में जाने से वे डरते है जो कायर होते

0
140

बोल आरजेडी के वरिष्ठ तेजस्वी यादव
आरजेडी के वरिष्ठ नेता तेजस्वी यादव ने पटना में शनिवार को नीतीश सरकार को निशाने पर लेते हुए कहा, एक तरफ बिहार के लोग कोरोना और बाढ़ से तवाह और ऐसी हालत में सरकार चुनाव करना चाहती है, चुनाव से डरता नही बल्कि इस महमारी के समय बिहार के लोगो की सेहत की चिंता जरुर सता ररही है कि चुनाव हुआ तो अंजाम क्या होगा! क्योंकि बिहार में कोरोना से 34 हजार से ज्यादा लोग बीमार है, आयोग को इस महमारी में बिहार में सोच समझ कर ही चुनाव का एलान करना चाहिए, तेजस्वी ने कहा, कोरोना का असर तो पुरे बिहार में है, और मौत के आंकड़ा भी रोज बढ़ रहा है, वही दूसरीी ओर बिहार के 10 जिले बाढ़ से तवाह है, और लोग त्राहिमाम कर रहे है, और नीतीश सरकार लोगो की चिंता करने के बदले रोज वर्चुअल रैली में मस्त है, नीतीश सरकार राष्टपति शासन में चुनाव कराने से क्यो हिचक रही है, क्योंकि ऐसा हुआ तो उनकी कुर्सी चली जाएगी और अफसर उनके हाथ से निकल जाएंगे। एक सवाल पर उन्होंने कहा बिहार में लालू यादव नही होते तो चाचा सीएम के कुर्सी पर न होते। उनके आदमियो को कुछ बोलने से पहले बार-बार सोचना चाहिए, महागबंधन के लोग चुनाव से डरते नही है, चुनाव हुआ तो जोरदार मुकाबला भी होगा। बाढ़ पीड़ितो मिलने दरभंगा गए तो धमकिया मिलने लगी। आरजेडी के वरिष्ठ नेता रजनीकांत यादव ने कहा कोरोना को लेकर बिहार के अधिकांश अस्पतालो का वेड फूल हो गए है, और सरकार को चुनाव की चिंता सता रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here