ओडीएफ में हुए घोटाले का बड़ा खुलासा

0
291

इंका और आरजेडी ने मांग की जांच की
वैसे तो राज्य के 136 प्रखंड ओडीएफ घोषित किए गए है, लेकिन सीतामढ़ी, शोखपुर और रोहतास के अधिकारियों ने ओडीएफ के नाम पर एक बड़ा खेल-खेल दिया, जल्दबाजी में तो जिले को ओडीएफ घोषित कर राज्य सरकार को रिपोर्ट दे दी, लेकिन यह कार्रवाई कागजो में रह गयी। इंका के वरिष्ठ नेता प्रेमचंद्र मिश्र और राजद प्रदेश सचिव श्यामनंदन कुमार यादव तथा वरीय नेता रजनीकांत यादव ने इस मामले को अत्यंत गंभीर मानते हुए सरकार से उच्चस्तरीय जांच कराने की मांग की है। राजद नेता रजनीकांत ने कहा, सीतामढ़ी के कई ऐसे प्रखंड के गांव है, जहा के लोग आज भी खुले में शौच कर रहे है, रुनीसैदपुर अंचल के कई गांव का हाल तो और बुरा है, लेकिन वहा के अधिकारियों ने संपूर्ण अंचल को ओडीएफ घोषित कर दिए। रीगा, बाजपट्टी, बथनाहा, और सुरसंड प्रखंड के अधिकांश गांव ओडीएफ से काफी दूर है, लेकिन कागजो ओडीएफ घोषित कर दिए गए है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here