आयोग ने चुनाव के लिए चिन्ह सलेक्ट किए

0
136

बिहार में पंचायत चुनाव अप्रैल और मई में संभावित है, निर्वाचन आयोग नें मुखिया पद के प्रत्याशियों के लिए मोर, गाजर, बाल्टी और कुंआ सहित अन्य चुनाव चिन्ह सलेक्ट किया है, प्रत्याशी चुनाव इन्ही चिन्हो के सहारे लड़ेंगे। राज्य निर्वाचन आयोग ने पंचायत आम चुनाव, 2021 को लेकर मुखिया सहित सभी छह पदों के लिए चुनाव चिन्ह का निर्धारण कर दिया है। आयोग द्वारा जारी अधिसूचना के अनुसार राज्य में पंचायत निकायों, जैसे ग्राम पंचायत के सदस्य, ग्राम पंचायत के मुखिया, पंचायत समिति तथा जिला परिषद के सदस्यों तथा ग्राम कचहरी जैसे सरपंच एवं पंच के निर्वाचन के लिए प्रतीक चिन्हों का निर्धारण किया गया है।
मुखिया पद के लिए 14 चुनाव चिन्ह तय
ग्राम पंचायत के मुखिया पद के लिए चुनाव लड़ने वाले प्रत्याशियों के लिए मोतियों की माला, ढोलक, कलम और दावात, टेंपु, पुल,बैगन, ब्रश, चिमनी, कैमरा, मोमबत्तियां, काठगाड़ी, ब्लैक बोर्ड, गाजर, बाल्टी, मोर, हंसिया, जग, केतली, कुंआ, सेव, डीजल पंप, टॉफी, छड़ी, मोबाईल, सीटी, चुड़ियां, टोकरी, जंजीर, टेलीविजन, ऊंट, किताब, तोता, वायुयान, उगता हुआ सूरज, खजूर का पेड़ व पपीता चुनाव चिन्ह के रुप में निर्धारित किया गया है।
पंच पद के प्रत्याशी कबुतर, और चापाकल
पंचायत चुनाव में ग्राम कचहरी के पंच पद के प्रत्याशियों के लिए 10 चुनाव चिन्ह निर्धारित किए गए है। पंच पद के प्रत्याशी गुड़िया,चापाकल, कुर्सी, टार्च, ट्रैक्टर, सीढी, तराजू, डमरू, कबुतर व बल्ला चुनाव चिन्ह पर चुनाव लड़ेंगे।
सरपंच पद के प्रत्याशी के लिए 21 चिन्ह तय
वहीं, सरपंच पद के प्रत्याशियों के लिए 21 चुनाव चिन्ह तय किए गए है। इनमें स्टोव, मोटरसाईकिल, नल, बल्व, चैका-बेलन, जोड़ा बैल, स्टूल,बगुला, लडडू, हल, टमटम, बांसुरी, टाईपराइटर, माचिस, छाता, भोजन की थाली, खल-मूसल, पानी का जहाज, ट्रक, चरखा व खूरपी शामिल हैं।
पंचायत समिति सदस्य के लिए नारियल व चारपाई
पंचायत समिति सदस्य पद के चुनाव को लेकर नारियल, चारपाई, कप और प्लेट, कंघा, बरगद का पेड़, डोली, फ्राक, कुदाल, गैस सिलेंडर व जीप का चिन्ह तय किया गया है।
जिला परिषद सदस्य के लिए 20 चिन्ह तय
पंचायत चुनाव में जिला परिषद सदस्य पद के चुनाव के लिए 20 चुनाव चिन्ह निर्धारित किए गए है। इनमें पतंग, लेडी पर्स, लेटर बॉक्स, ताला और चाबी, मक्का, प्रेशर कुकर, रेल का इंजन, आरी, अंगुर का गुच्छा, सिलाई की मशीन, स्लेट, मछली, वैन, मेज, टेबुल लैंप, गैस का चूल्हा, कांच का गिलास, हारमोनियम, टोप तथा जलता हुआ दीया इनमें शामिल हैं।
12 चुनाव चिन्ह सुरक्षित रखे गए हैं
आयोग के अनुसार 12 चुनाव चिन्ह सुरक्षित रखे गए हैं। इनमें कोट, जोड़ा हिरण, अलमीरा, अंगूठी, शंख, ब्रीफकेस, मुर्गा, लिफाफा, हैंगर, तुरही, कछुआ व गुब्बारा इनमें शामिल हैं। आयोग के अनुसार सुरक्षित चुनाव चिन्हों का प्रयोग विशेष परिस्थिति में यदि छह अथवा किसी एक या एक से अधिक पदों के चुनाव लड़ने वाले प्रत्याशियों की संख्या अधिक हो जाए, तो इनका उपयोग किया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here