कार्रवाई से पहले सोचना चाहिए था डिप्‍टी सीएम को

0
90

अधीक्षक के निलम्‍बन पर भडके आईएमए

पटना: बिहार के डिप्‍टी सीएम तेजस्वी यादव तेवर में चल रहे है, उनके ताबड़तोड़ एक्शन से उॉक्‍टरो में हडकंप हैं। वही दूसरी ओर उनके एक्‍शन को आईएमए ने गंभीरता से लेते हुए कहा, डिप्‍टी सीएम को कोई एक्‍शन लेने से पहले सोचना चाहिए  था, विदित हो कि  गुरुवार को डिप्‍टी सीएम एनएमसीएच यानि नालंदा मेडिकल कॉलेज के औचक निरीक्षण पर निकल गए। इस दौरान उन्होंने वहां का हाल जाना और मरीजों से बात भी की। इसके बाद तेजस्वी यादव वहां से लौट गए। इसके बाद शुक्रवार की दोपहर तक सब ठीक था, लेकिन शाम को स्वास्थ्य विभाग से एक आदेश निकाला गया जिससे आईएमए बुरी तरह से नाराज हो गया।

एक्‍शन कही भाडी न पड जाए
डॉ बिनोद कुमार सिंह के निलंबन से आईएमए बुरी तरह से नाराज हो गया है। एनएमसीएच अधीक्षक के निलंबन पर राष्ट्रीय आईएमए और बिहार आईएएम ने सवाल खड़े कर दिए हैं। राष्ट्रीय आईएमए  अध्यक्ष डॉक्टर सहजानंद सिंह ने तेजस्वी यादव की कार्रवाई पर सवाल उठा दिए हैं।डॉ सहजानन्द ने कहा कि बिना कारण बताओ नोटिस के एनएमसीएच  अधीक्षक डॉ बिनोद कुमार सिंह को कैसे निलंबित किया गया। डॉक्टर बिनोद कुमार सिंह जैसे कर्तव्य निष्ठ डॉक्टर का सस्पेंशन बिल्कुल गलत है। इस पूरे मामले को लेकर शनिवार की शाम बिहार आईएमए और राष्ट्रीय आईएमए इमरजेंसी मीटिंग करने जा रहा है। यही नहीं आईएमए इसको लेकर नाराजगी जताते हुए सीएम नीतीश कुमार को खत लिखने की तैयारी कर रहा है। उधर सूत्रों का ये भी कहना है कि तेजस्वी ने गलत फीडबैक पर बिना पड़ताल के जल्दबाजी में ये कदम उठा लिया

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here