आरजेडी न होता तो नीतीश सीएम नही होते

0
159

बोले राजद नेता रजनी कांत
राजद के वरिष्ठ नेता सह अधिवक्ता रजनी कांत यादव ने सोमवार को मुजफ्फरपुर में पत्रकारों से बात करते हुए कहा, बिहार में नीतीश को सर्वोच्च कुर्सी तक ले जाने वाले राजद सुप्रीमो है, दुबारा नीतीश कुमार बिहार में भाजपा के साथ सरकार तो बनाए, लेकिन दो साल के बाद रिश्ते बिगड़ गए, विधान सभा में नीतीश सरकार अल्पमत में आ गयी, लेकिन राजद सुप्रीमो लालू यादव ने उनका साथ देकर सरकार को बचा लिया, फिर दोनो एक साथ होकर बारबर-बराबर के सीटो पर विधान सभा का चुनाव लड़े, और परिणाम आए तो भाजपा धराशायी हो गया। चुनाव तो आरजेडी और जेडीयू बराबरी पर लड़ा, लेकिन जेडीयू से ज्यादा सीटे आरजेडी को आए, लेकिन राजद सुप्रीमो ने तेजस्वी के बदले बिहार का सीएम नीतीश कुमार को ही बनाया। लेकिन सीएम फिर पूर्व के समान पलटी मार गए और भाजपा के गोद में जा बैठे। रजनी कांत ने कहा, एनडीए ने फरेब करके लोकसभा चुनाव तो जित गया है, लेकिन इस खामियाजा का भारी किमत विधान सभा चुनाव में मिल जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here