सावन के पहले दिन मंदिरों में उमड़े श्रद्धालु

0
371

-चप्पे-चप्पे किए सुरक्षा बल तैनात
-स्वंय सेवक लगा रहे थे कतार
मुजफ्फरपुर। सावन के पहले दिन बाबा गरीब नाथ मंदिर में सुबह पांच बजे से भगवान भोले नाथ पर जलाभिषेक के लिए हजारों श्रद्धालु पहुंचे। श्रद्धालुओ की पहुंचने का सिलसिला दिन के 12 बजे तक जारी रही, वही दूसरी ओर जिला प्रशासन ने वहा भीड़ को नियंत्रित करने के लिए पर्याप्त पुलिस बल तैनात किया है, डीएम ने बलो को दिशा निर्देश देने के लिए 50 से अधिक दंडाधिकारियों भी दिए है, श्रद्धालुओ में सर्वाधिक महिलाएं थी, भीड़ को नियंत्रित करने के लिए मंदिर प्रशासन की ओर से भी 300 से अधिक स्वंयसेवक लगाए गए है, जो जलाभिषेक के लिए आए श्रद्धालुओ को कतार में लगा रहे थे, 30 को पहली सोमवारी है और डीएम ने मंदिर के सुरक्षा के लिए कई इंतजाम किए है, उपद्रवियों पर नजर रखने के लिए मंदिर के चारों ओर यानी अंदर और बाहर सीसीटीवी कैमरा लगाए गए है, डीएम ने कैमरे पर नजर रखने के लिए एक दंडाधिकारी और दो पुलिस अधिकारियों को नियुक्त किया है, मंदिर से थोड़ा आगे सुधा पार्लर के पास नियंत्रण कक्ष बनाए गए है, जहां दो सेक्शन शसस्त्र पुलिस बल और तीन दंडाधिकारी तैनात किए गए है, मंदिर और उसके आस पास नगर निगम की ओर से युद्ध स्तर पर सफाई कराए जा रहे है, साहूं पोखर की सफाई अंतिम चरण में है। घेराबंदी का काम लगभग पूर्ण हो चुका है, आमगोल से लेकर प्रभात सिनेमा तक बैरिटेकिंग का काम हो चुका है, मंदिर के प्रधान पुजारी पंडित विनय पाठक बताते है कि शुक्रवार को लगभग 20 हजार कांवरियां भगवान भोले नाथ का दर्शन कर पहलेजा के लिए गए है, डाक बम रविवार को पहलेजा के लिए निकलते है, इसमें से कुछ कांवरिया पहलेजा जाने से पूर्व भगवान के दर्शन के लिए मंदिर पहुंचते है तो कुछ सीधे जले जाते है, कांवरियों के तीनो ठहराव स्थल यथा आर0डी0एस, बिहार बिजली बोर्ड और आर0बी0टीएस काॅलेज सज धज का तैयार है, निगम वहा सफाई के लिए तीन दर्जन से अधिक कर्मियों को प्रतिनियुक्त किया है, शनिवार को रामदयालू पोखर की सफाई कर दी है, बाध वाला पोखर की सफाई चल रही है, निगम के वरीय सफाई अधिकारी अमरेन्द्र कुमार सिंहा ने बताया कि देर रात तक पोखरे की सफाई हो जाएगी। रामदयालू में कांवरियों के लिए कई तरह की दुकाने सज गयी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here