डीएम अचानक पहुंचे बोचहा, हड़कंप

0
341

-खिचड़ी के गुणवता पर भड़के

मुजफ्फरपुर। जिलाधिकारी मो0 सोहैल बुधवार को अचानक बोचहा प्रखंड पहुंचे। वहा पहुंचने के बाद सीधे प्रखंड कार्यालय गए और अधिकारियों के साथ कई योजनाओ के क्रियान्वयन पर विचार विमर्श किए। फिर इसके बाद एक-एक कर रिकार्डो का निरीक्षण किए, डीएम ने पड़ताल के दौरान कई रिकार्डो में खामिया देखी। डीएम ने वहा के बीडीओ को तत्काल सभी रिकार्डो से खामियो को दूर करने का आदेश दिए। फिर इसके बाद डीएम वहा के राजकीय स्कूल में गए, मध्यान भोजन के तहत बच्चो को दिए जा रहे खिचड़ी को डीएम खुद खाए, बच्चो को जो खिचड़ी दी जा रही थी, उसका स्तर काफी घटिया था, डीएम ने इस मामले को गंभीरता से लेते हुए वहा प्राधानाध्यापक को जमकर फटकार लगाते तत्काल व्यवस्था में सुधार लाने का आदेश दिए। वहां से निकलने के बाद डीएम राजकीय मध्य विद्यालय धनुषी गए, वहा संचालित आंगनवाड़ी केंद्रों का औचक निरीक्षण किए, वहा भी डीएम को कई खामियां देखनो को मिली।। केंद्र की सेविका-सहायिका अनुपस्थित पाई गई तथा बच्चे भी नदारद थे, निरीक्षण के क्रम में पाया गया कि आंगनवाड़ी केंद का संचालन नियमानुसार नही किए जाते है। डीएम ने साथ गए डीपीओ को दोनो के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने का आदेश दिए, इसके बाद डीएम राजकीय मध्य विद्यालय धनुषी का भी औचक निरीक्षण किए, पड़ताल के दौरान उन्होंने पाया कि विभिन वर्ग के बच्चो को एक ही क्लास में बैठाकर शिक्षण कार्य किए जा रहे है, जो बिल्कुल नियम के बिरुद्ध है, वहा दो शिक्षक प्रतिनियुक्ति पर है, डीएम ने गोपनीय प्रभारी को निर्देश देते हुए कहा कि दोनो की प्रतिनियुक्त रद् करते हुए उन्हें मूल स्कूलो में लौटाए। उक्त विद्यालय में मध्यान भोजन के तहत बनाई गई खिचड़ी को जब डीएम ने स्वयं चखा तो कई खामियाँ पाई गई। उसमे दाल की मात्रा काफी कम थी।बनाई गई खिचड़ी में अन्य कई खामियां पाई गई। इसपर डीएम ने नारजगी प्रकट करते हुए जिला कार्यक्रम पदाधिकारी योजना एवं लेखा को प्रधानाध्यापक शैलेन्द्र कुमार के विरुद्ध आवश्यक कार्रवाई करने का निर्देश दिया। उक्त विद्यालय में अध्ययनरत छात्रों को अभी तक छात्रवृत्ति नही दी गई है, डीएम ने वहा के प्रधानाध्यापक को अविलंब सभी छात्रों के खाते में छात्रवृत्ति राशि भेजने का आदेश दिए। डीएम ने पंचायत राज नरमा में हरष् घर नाल का जल योजना की भी जांच की। स्थल पर रखे गए प्लास्टिक टैंक की गुणवत्ता मंें भी खामियां पाई गई। साथ ही यह भी पाया गया कि अभी तक किसी भी लाभुक के घर तक नल का संयोजन नही किया गया है। डीएम ने इस मामले में वहा के बीडीओ से 48 घंटे के अंदर स्पष्टीकरण देने को कहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here