हमले में रिटायर्ड आईएएस की दांत टूटा

0
35

आम रास्ते को बंद करने का विरोध करना रिटायर्ड आईएएस रमेश कुमार शर्मा को महंगा पड़ा। रविवार की सुबह मार्निंग वॉक से घर लौटते समय पड़ोसी दंपती ने पहले तो लात-घूसों से उनकी जमकर पिटाई की। हमले में उनका एक दांत टूट गया। इस हमले के बाद बाथरूम साफ करने में प्रयुक्त होने वाले एसिड को फेंक कर उन्हें जलाने की भी कोशिश की गई। गनीमत रही कि एसिड उनके शरीर पर न गिरकर सड़क पर गिर गया, जिसके चलते रिटायर्ड आईएएस अधिकारी बाल-बाल बच गये। यह घटना शास्त्रीनगर थाना क्षेत्र के शिवपुरी इलाके की है। इस मामले में पीड़ित की ओर से शास्त्रीनगर थाने में लिखित शिकायत दर्ज कराई गई है।
पहले से लगाये थे घात
बताया गया है कि 65 रमेश कुमार रिटायर्ड आईएएस अधिकारी रहे हैं। वह संयुक्त सचिव के पद से सेवानिवृत्त होने के बाद शास्त्रीनगर के शिवपुरी इलाके में रहते हैं। रविवार की सुबह 6 बजे मॉर्निंग वॉक करके वह अपने घर लौट रहे थे। घर से चंद कदम पहले ही आरोपित दंपती ने उन्हें धक्का देकर सड़क पर गिरा दिया। वे मुंह के बल ऐसे गिरे कि उनका एक दांत टूट गया। हमले के दौरान वह कुछ समझ पाते कि पड़ोस में रहने वाले दंपती बाथरूम साफ करने वाला एसिड लेकर आए और उनके शरीर पर फेंकने की कोशिश की। हालांकि, उसी बीच वहां मौजूद कुछ लोगों ने सड़क पर गिरे रमेश कुमार शर्मा को उठा लिया। इस वजह से एसिड उनके शरीर पर नहीं गिरकर सड़क पर ही फैल गया। रमेश कुमार शर्मा के परिवार वालों को जैसे ही इस घटना का पता चला, वे घटनास्थल पर पहुंच गए। इसके बाद जख्मी को इनकम टैक्स स्थित सरकारी हॉस्पिटल में ले जाया गया। जहां उनका प्राथमिक उपचार किया गया।
रास्ता रोकने को लेकर घटना
बताया गया है कि शिवपुरी इलाके में बनाए जा रहे पीसीसी रोड पर आरोपित बाउंड्री बनवाकर रास्ते को बंद कर रहे थे, जबकि रास्ता आम लोगों के आने-जाने का है। बाउंड्री के लिए काफी मैटेरियल भी मंगवा रखा था। इस कारण इलाके में रहने वाले लोगों ने अपनी आपत्ति भी जताई थी। रास्ता बंद करने का विरोध रमेश कुमार शर्मा ने भी किया था। इसकी वजह से उन पर तय साजिश के तहत हमला किया गया। शास्त्रीनगर थाना प्रभारी रामशंकर सिंह ने बताया कि लिखित आवेदन मिला है। मामले की जांच कर आवश्यक कार्रवाई की जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here