स्वास्थ मंत्री मंगल पांडे ने लिए कोरोना वैक्सीन

0
80

बोले 29 लाख को पड़ चुकी वैक्सीन
बिहार में एक अप्रैल से 45 साल से ज्यादा उम्र के लोगों को कोरोना वैक्सीन देने की शुरुआत हो गई है। राज्य के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने खुद वैक्सीन लेकर इसकी शुरुआत की। मंत्री पटना के इंदिरा गांधी आयुर्विज्ञान संस्थान अस्पताल पहुंचे और वहा उन्होंने वैक्सीन का पहला डोज लिया। उन्होंने कहा कि अबतक बिहार में 29 लाख लोगों को कोरोना का टीका लगाया जा चुका है। मंत्री ने कहा कि बिहार में दूसरे राज्यों की अपेक्षा पॉजिटिव मरीजों की संख्या काफी कम है लेकिन लोगों को सावधानी बरतना जरूरी है। स्वास्थ्य मंत्री ने लोगों से अपील करते हुए कहा कि जो भी लोग 45 साल से ज्यादा उम्र के हैं वो वैक्सीन जरूर लें। इसके अलावा मास्क लगाएं, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें। राज्य सरकार ने शिक्षा विभाग के तहत कार्यरत योग्य सभी शिक्षकों एवं कर्मियों के कोरोना टीकाकरण कराने का निर्णय लिया है। बुधवार को इस संबंध में शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव संजय कुमार एवं स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव प्रत्यय अमृत ने संयुक्त रूप से आदेश जारी किया। उन्होंने सभी जिलों के डीएम तथा सिविल सर्जनों को निर्देश दिया कि 45 या उससे अधिक उम्र के सभी शिक्षकों एवं कर्मियों एवं उनके परिजनों के टीकाकरण को लेकर प्रेरित करें और उनका टीकाकरण कराएं। दोनों विभागों का मानना है कि पल्स पोलियो, खसरा, रूबैला सहित अन्य नियमित टीकाकरण अभियान के दौरान शिक्षकों की महती भूमिका रही है, इसलिए शिक्षकों व कर्मियों का कोरोना टीकाकरण आवश्यक है।
जिला स्तर पर होगा समन्वय बैठक
निर्देश के अनुसार जिलाधिकारी द्वारा कोरोना टीकाकरण को लेकर जिला स्तर पर समन्वय बैठक का आयोजन किया जाएगा। जिला पदाधिकारी के नेतृत्व में समन्वय बैठक में शिक्षा विभाग, नगर परिषद, नगर निगम, नगरपालिका के पदाधिकारी व चयनित जनप्रतिनिधि, जीविका व पंचायतीराज के पदाधिकारी एवं चयनित जनप्रतिनिधि एवं स्थानीय जनप्रतिनिधि को शामिल किया जाएगा। देश में पिछले साल कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए लगाए गए लॉकडाउन से जहां लोगों को काफी आर्थिक नुकसान हुआ। वहीं बिहार के वाणिज्य कर विभाग ने राजस्व संग्रहण में एक नया रिकॉर्ड बनाया है। राज्य के वाणिज्य-कर विभाग ने बुधवार को बताया कि इस वित्तीय वर्ष 2020-21 में राज्य को 32 हजार करोड़ रुपये का राजस्व मिला है। यह पिछले साल 2019-20 से 22.35 प्रतिशत ज्यादा है। 2019-20 में विभाग को 26 हजार 166 करोड़ रुपये का राजस्व मिला था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here