सीसीए पर कार्रवाई नही की तो मुजफरपुर के 17 थानेदारो से स्पष्टीकरण

0
93

डीएम ने की सभी थानेदारो के खिलाफ कार्रवाई

मुजफ्फरपुर जिले के 12 शराब धंधेबाज समेत 53 शातिरों पर सीसीए की कार्रवाई दबाने वाले 17 थानेदारों से स्पष्टीकरण की मांग की गई है। डीएम कार्यालय से सभी थानेदारों को बीते अगस्त माह से अब तक सात बार रिमाइंडर भेजा गया, लेकिन पुलिस ने सभी शातिरों पर सीसीए की कार्रवाई थाने से आगे नहीं बढ़ने दी। बता दें कि पुलिस की रिपोर्ट पर ही सभी शातिरों पर सीसीए की कार्रवाई शुरू की गई थी। लेकिन, जब शातिरों को सीसीए की नोटिस तामिला कराने की बारी आयी तो इसे थाने में ही दबा दिया गया।

यह गंभीर लापरवाही है

बीते 30 नवंबर को डीएम ने इस मामले को गंभीरता से लेते हुए सभी लापरवाह पुलिस कर्मियों पर कार्रवाई के लिए एसएसपी को भी पत्र भेजा था। अब एसएसपी कार्यालय से सभी थानेदारों से जवाब तलब किया गया है। एसएसपी ने बताया कि यह गंभीर लापरवाही है। थानेदारों के स्पष्टीकरण की समीक्षा कर कार्रवाई की जायेगी। बता दें कि अपराध नियंत्रण के लिए कई कांडों के चार्जशीटेड अपराधियों को चिह्नित कर सीसीए की कार्रवाई की जाती है। इसमें एसएसपी ऐसे शातिरों को चिह्नित करते हैं, जिनका पेशा ही अपराध करना या शराब का धंधा करना है। जेल से जमानत पर छूटने के बाद ऐसे शातिरों पर सीसीए-3 के तहत कार्रवाई होने पर उन्हें हर दिन किसी ना किसी थाने पर हाजिरी लगा दिनभर की गतिविधियां बतानी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here