सीएम के दाहिने हाथ ललन सिंह बने जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष

0
183

 दिल्ली में कार्यकारिणी की बैठक में हुआ फैसला

दिल्ली में जनता दल यूनाइटेड (जदयू) के राष्ट्रीय अध्यक्ष पद के चुनाव के लिए राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक समाप्त हो गई है। बैठक में सर्वसम्मति से बिࠀहार के सीएम नीतीश कुमार के दाहिने हाथ ललन सिंह को जदयू का राष्ट्रीय अध्यक्ष चुन लिया गया है। वहीं  केंद्रीय मंत्री आरसीपीसी सिंह ने राष्ट्रीय अध्यक्ष के पद से इस्तीफा दिया है।  जंतर-मंतर स्थित पार्टी कार्यालय में हो रही इस बैठक में बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार भी शामिल थे। 

हर क्षेत्र में पहुंचना पार्टी की प्राथमिकता होगी: ललन सिंह 

जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष बनने के बाद ललन सिंह ने कहा कि आरसीपी सिंह पहले पार्टी का काम देख रहे थे, उस काम को उन्होंने जहां तक पहुंचाया उसे आगे ले जाना और बिहार के गांवों व अन्य प्रदेशों तक पहुंचाना पार्टी की प्राथमिकता होगी। सभी नेताओं और महत्वपूर्ण साथियों से विचारविमर्श के आधार पर संगठन को मजबूत किया जाएगा। बता दें कि जेडीयू के अध्यक्ष पद की रेस में राजीव रंजन सिंह उर्फ ललन सिंह का नाम सबसे आगे चल रहा था। ललन सिंह सीएम नीतीश कुमार के बेहद नजदीकी माने जाते हैं। राजीव रंजन उर्फ ललन सिंह वर्तमान में मुंगेर लोकसभा सीट से जेडीयू के सांसद हैं। नीतीश कुमार से इनकी गहरी दोस्ती वर्ष 1970 में हुई थी। ललन सिंह को पार्टी के संस्थापक सदस्य के रूप में जाना जाता है। ललन सिंह पार्टी बनने के बाद से अब तक नीतीश के साथ जुड़े हुए हैं। हालांकि कुछ साल पहले दोनों के बीच मतभेद भी हुए थे लेकिन यह ज्यादा दिन तक नहीं चला।  वहीं बैठक से पहले जदयू राष्ट्रीय अध्यक्ष पद की जिम्मेदारी संभाल रहे आरसीपी सिंह ने कहा था कि ‘नीतीश कुमार से उनके संबंध वर्षों से हैं और आगे भी रहेंगे। हमारे संबंध का कोई पैमाना नहीं है। वे हमारे नेता हैं और सालों तक उनके साथ काम किया है। आगे भी करेंगे। संगठन है तो पार्टी है। तभी मैं मंत्री और हमारे नेता मुख्यमंत्री हैं। मैं संगठन और मंत्री दोनों का काम मजबूती से करूंगा, लेकिन निश्चित रूप से पार्टी तय करेगी तो मैं यह जिम्मेदारी किसी मजबूत साथी को देने से पीछे नहीं हटूंगा।

कही केंद्र में ललन बाबू मंत्री बन गए तो फिर कौन होगा अध्‍यक्ष

बोले आरजेडी के वरिष्‍ठ नेता रजनीकांत

आरजेडी के वरिष्‍ठ नेता सह वरीय अधिवक्‍ता रजनीकांत यादव ने शनिवार को पत्रकारो से बात करते हुए कहा,  बिहार के सीएम के दो चहेते है, एक चहेते को तो केंद्र में मंत्री के कुर्सी पर काबिज करा दिया है, और उनके स्‍थान पे दूसरे चहेते ललन सिंह को यानी राष्‍टीय अध्‍यक्ष के कुर्सी में मंत्री दे दी है, बिहार के सीएम का यह खेल ज्‍यादा दिनो तक चलने वाली नही है ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here