सीएम अचानक पहुंचे पुलिस मुख्यालय, हड़कंप

0
414

बोलेे एक्शन चाहिए, सिर्फ बैठक नही
बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार बुधवार को अचानक पहुंच गए पुलिस मुख्यालय, उनके अचानक पहुंचने के बाद पुलिस महकमे में हड़कंप मच गए, हाल के दिनो में सीएम ने लाॅ एंड आॅर्डर को लेकर पुलिस अधिकारियों के साथ कई बैठके तो की, लेकिन उनके निर्देश के बाद भी परिणाम शून्य निकला। सीएम ने अधिकारियों को सख्त लहेजे में चेतावनी देते हुए कहा, सिर्फ बैठक से नही चलगा काम, एक्शन में आईए, सीएम ने पुलिस अधिकारियों के समक्ष अपनी चाहत रखते हुए कहा, जो पुलिस अधिकारी कार्यो में कोताही बरतेंगे, उन्हें जाना तय है, अपराध नियंत्रण हर हाल में होना चाहिए, इसके बाद मुख्यमंत्री ने सरदार पटेल भवन स्थित पुलिस मुख्यालय और आपदा प्रबंधन कार्यालय भवन का भी निरीक्षण किए, और बैठक में पुलिस पदाधिकारियों को कई आदेश दिए।

प्रशिक्षण पुलिस अकादमी परिसर हो
सीएम ने निरीक्षण के दौरान अधिकारियों को आदेश देते हुए कहा, बिहार पुलिस अकादमी परिसर में उपलब्ध प्राकृतिक जल सरंचनाओं को अच्छी तरह से विकसित करें। बिहार पुलिस अकादमी को गंगा नदी का पानी उपलब्ध कराया जाएगा। सीएम ने अधिकारियों को बिहार पुलिस अकादमी में फॉरेंसिक लैब को जल्द पूरी तरह से फंक्शनल में लाने का आदेश दिए। बिहार में ही पुलिस केे सभी प्रकार के विशिष्ठ प्रशिक्षण की व्यवस्था होनी चाहिए।
पुलिस आधुनिकीकरण के लिए तैयार करे योजना
सीएम ने कहा राज्य सरकार अपने मद से भी राशि उपलब्ध करायेगी। संवेदनशील स्थलो पर जल्द से जल्द सी0सी0टी0वी0 कैमरेलगाये जायें। मुख्यमंत्री के समक्ष ए0डी0जी0-सह-निदेेशक बिहार पुलिस अकादमी, राजगीर श्री भृगु श्रीनिवासन ने बिहार पुलिस अकादमी, राजगीर पर आधारित एक विस्तृत प्रस्तुतीकरण दिया। प्रस्तुतीकरण में बताया गया कि बिहार पुलिस अकादमी, राजगीर का उद्घाटन मुख्यमंत्री द्वारा दिसबंर, 2018 में किए गए, अब तक बिहार पुलिस अकादमी में 150 पुलिस उपाधीक्षक, 2000 पुलिस अवर निरीक्षक, 300 उत्पाद निरीक्षक ने प्रशिक्षण प्राप्त किया है।पत्रकारो से क्या बोले सीएम, देखे विडियो

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here