सिर्फ खेल हो रहा विवि के परीक्षा विभाग में

0
591
brabu

कुलसचिव भी नही करना चाहते हस्तक्षेप
बीआरए बिहार विश्वद्यिालय के अधिकारियों पर यूनियन हावी है, हालांकि वहा जितने कर्मियों को होना चाहए उतना है नही। वैसा सेवा निवृति से परीक्षा विभाग के काम लिए जा रहे है, जो घपले में पकड़े गए है, उनपर थाने में केस भी हुई, निलम्बत भी हुए, लेकिन परीक्षा नियंत्रक ने फिर काम दे दिए, विवि के पूर्व कुलपति ने कई अंगीभूत काॅलेज है, के कर्मियो की सेवा विवि में तो लेना चाही, लेकिन यूनियन के दबाब में अधिकारियों ने धुटने टेक दिया। परीक्षा विभाग के हालात यह है कि स्नातक के खाली सीटो पर अभी तक नामांकन नही हुए, काॅलेजो में हाथ से लिखी मार्क सीट भेजे जा रहे है, पार्ट 2 के परीक्षा खत्म हो गए, अभी तक प्रैकिटल के लिए प्रोग्राम नही जारी किए गए, पार्ट 3 का परिणाम में अधर में लटका है।

INAD1

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here