सरकारी शिक्षकों भी लेंगे तीन हफ्ते की ट्रेनिंग  

0
78

मिलेगा गृह जिले में तबादले का मौका

नीतीश सरकार ने बिहार में सरकारी शिक्षको को पूर्ण दक्ष करने की कवायत शुरू कर दी है, स्‍कूलों में व्‍यवस्‍था सुधारने के लिए कई स्‍तर पर कवायल चल रही है। इसी के तहत शिक्षा मंत्री ने राज्‍य के सरकारी स्‍कूलों में कक्षाओं का संचालन नियमित करने के लिए एक महीने का वक्‍त विभाग को दिया है। अब सभी स्‍कूलों के प्रभारी प्रधान शिक्षक, प्रधानाध्‍यापक और शिक्षकों को तीन महीने का विशेष प्रशिक्षण दिया जाएगा

बिहार के प्राथमिक शिक्षा निदेशालय ने अवर शिक्षा सेवा (प्राथमिक शिक्षा) संवर्ग के शिक्षण तथा निरीक्षण शाखा में पदस्थापना के लिए तीन-तीन विकल्प देने को कहा है। प्राथमिक निदेशक रवि प्रकाश ने ई-मेल के जरिए विकल्प मांगा है। निर्देश के तहत शिक्षण संवर्ग वाले निरीक्षण संवर्ग में, जबकि निरीक्षण वाले शिक्षण संवर्ग में पदस्थापन का अवसर पा सकते हैं।

एक वर्ष से कम नौकरी बची हो तो गृह जिले में जाएं

राज्य के विभिन्न 79 बुनियादी विद्यालयों के प्रधानाध्यापकों ने निरीक्षण शाखा में, जबकि 24 प्रखंड शिक्षा पदाधिकारियों ने निरीक्षण से शिक्षण शाखा में अपने स्थानातंरण को लेकर आवेदन दिया है। निदेशक ने आदेश में कहा कि जिनकी 30 सितम्बर 2023 तक एक वर्ष की या उससे कम की सेवा बची हो, वे गृह जिला में पदस्थापना का भी विकल्प दे सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here