वर्दी में सर्वाधिक महिलाए बिहार पुलिस में

0
139

नालंदा में बोले सीएम नीतीश कुमार

दावे के साथ कह सकता हूं कि अन्‍य राज्‍यो से सर्वाधिक महिलाए बिहार पुलिस में है, यह बाते बिहार के मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार गुरूवार को नालंदा में 2018 बैच के सब-इंस्पेक्टर की पासिंग आउट परेड के दौरान कही, वे राजगीर पुलिस अकादमी में लोगो को संबोधित करते हुए कहा कि 1586 प्रशिक्षु दरोगा में 619 महिलाओं को वर्दी में देखकर काफी खुशी हो रही है। अगर कहीं होतीं तो लोग बड़े-बड़े विज्ञापन छपवा देते, लेकिन हम विज्ञापनबाजी नहीं, काम करते हैं। उन्होंने कहा कि कोरोना काल में जिस तरह आपने कठिन प्रशिक्षण को पूरा किया है, वह काबिले तारीफ है। नीतीश ने कहा कि 2013 में सरकार ने पूरे सरकारी विभाग में 33 प्रतिशत महिलाओं के आरक्षण की घोषणा की थी, जिसे 2015 में लागू किया गया। अब जब आपलोग आफिसर बनकर ड्यूटी पर जाएंगे तो एक ही बात का ख्याल रखना है कि बिहार में कानून का राज बना रहे। सीएम ने कहा कि महिलाओं के ही कहने पर सरकार ने शराबबंदी लागू की थी। हम यह नहीं कह सकते कि पूरी तरह से अपराध रुक जाएगा। कुछ लोगों में गड़बड़ी करने की प्रवृत्ति होती है, उन्हें ठीक करना है। पहले थाने में एक ही पदाधिकारी के ऊपर विधि-व्यवस्था व जांच की जवाबदेही होती थी, अब ऐसा नहीं है। विधि-व्यवस्था के लिए अलग व जांच के लिए अलग पदाधिकारी है।

जल्‍द दूर होगी पुलिस बल की कमी

नीतीश ने कहा कि पुलिस बल की कमी को पूरा किया जा रहा है। एक लाख 40 हजार में 80 हजार जवानों की बहाली हो चुकी है। 20 –हजार नियुक्ति प्रोसेस में है। जल्द ही पुलिस की कमी को दूर कर लिया जाएगा। इतना ही नहीं राजगीर पुलिस अकादमी के भी विस्तार किया जा रहा है, ताकि दो हजार पुरुष व दो हजार महिला एक साथ प्रशिक्षण ले सकें। सीएम ने आगे कहा कि आम जनता की सुरक्षा व सुविधा का ख्याल एक परिवार की भांति निष्पक्षता से करना हर पुलिसकर्मी का धर्म और क‌र्त्तव्य होना चाहिए। इसमें सकारात्मक तथा सही सोच, मधुर व्यवहार, सहयोग की भावना का होना अतिआवश्यक है। तभी पब्लिक फ्रेंडली की भूमिका में पुलिस, अपनी हर सफलता के लक्ष्य के साथ साथ आम लोगों का प्यार, सहयोग और लोकप्रियता हासिल कर सकती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here