मल्लाह समाज नही शामिल होंगे एससी में

0
116

केंद्र ने ठूकराई मंत्री मदन सहनी की मांग
केंद्र सरकार ने मल्लाह समाज के नेता राज्य के मंत्री मदन सहनी की मांग को ठूकराते हुए मल्लाह को अनुसूचित जनजाति में शामिल करने से इंकार कर दिया है, इससे इस समाज से ताल्लुक रखने वाले नेता मायूस हैं। मंत्री मदन साहनी का कहना है कि उन्हें उम्मीद थी कि इस बार उनके जाति के लोगो को एससी में शामिल कर लिया जाएगा पर ऐसा नहीं हुआ।
समाज कल्याण मंत्री साहनी ने कहा कि हमें पूरा भरोसा था कि केंद्र सरकार इस बात को जरूर मानेगी। इसकी वजह है मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के निर्देश पर इथनोग्राफी रिपोर्ट के साथ अनुशंसा भेजी गई थी। रिपोर्ट में साफतौर पर बताया गया था कि इस समाज की डेढ़ करोड़ की आबादी है। इनकी राजनीतिक, शैक्षणिक, सामाजिक स्थिति बेहद दयनीय है।
मंत्री ने कहा कि बिहार ही नहीं पूरे देश में हमारे समाज से कोई आईएएस नहीं बना है। गिने-चुने लोग ही डॉक्टर और इंजीनियर बन पाए हैं। राजनीति में भी हम बहुत पीछे हैं। केंद्र और राज्य में एनडीए की सरकार है। हमें भरोसा था कि इस बार हमें एससी में शामिल किया जाएगा। पर ऐसा नहीं हुआ। हमारे समाज की उपेक्षा हुई है। हालांकि उन्होंने उम्मीद जताई कि उन्हें आने वाले दिनों में एससी में शामिल किया जाएगा। साहनी ने कहा कि भारत सरकार को एक बार फिर से इस मांग पर विचार करना चाहिए। हमें अनुसूचित जनजाति में शामिल किया जाना चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here