बिहार में हुए 345 कोरोना पॉज़टिव, हड़कंप

0
186

झारखंड में भी हो गए 103 के पार
कोरोना के बढ़ते ग्राफ को लेकर बिहार के नालंदा, मुंगेर और सीवान सीमाए तो पहले से सील है, राज्य सरकार ने मंगलवार को पटना मुंगेर, नालंदा, बक्सर, सीवान, कैमूर समेत 13 जिले को रेड जोन घोषित कर दी है, वहा सभी प्रकार के चहल-पहल पर रोक लगा दी गयी है। रेड जोन घोषित किए गए जिले के डीएम ने शहर की सभी सीमाए सील कर दी है, शहर के चैक-चैराहो पे चप्पे-चप्पे पर पुलिस के जवान तैनात कर दिए गए है, कोरोना को लेकर बिहार के राज्यधानी पटना में लोग खौफ के साए में जी रहे है, झारखंड का हाल भी ठीक नही है, वहा भी 103 लोग कोरोना पाॅजेटिव पाए गए है, राजद नेता रजनीकांत यादव इस समय लोगो को संयम से काम लेने को कहा, क्योंकि यह एक प्राकृतिक आपदा है, वही बिहार के पुलिस महानिदेशक गुप्तेश्वर पांडे ने सूबे के सभी पुलिस अधीक्षको को आने और जाने वाले गाड़ियो पर नजर रखने का आदेश दिए है, कोरोना मंगलवार को बिहार के तीन नए जिले में दस्तक दे दी है, डीजीपी ने सभी पुलिस अधिकारियों को अलर्ट मुड में रहने का आदेश दिए है, पुलिस महानिदेशक ने अधिकारियों को सख्त हिदायत देते हुए कहा, अभी के समय में माॅस्क और फेस कवर जीवन का एक अह्म हिस्सा है, क्योंकि आने वालो दिनो में कोरोना का असर बढ़ सकता है, जो व्यक्ति बिना माॅस्क के पकड़े जाए, उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई करे। राज्य के स्वास्थ विभाग ने जो कोरोना मरीजो आंकड़े दिए है, उसे नीचे दिए गए टेबल में देखें:-

#DistrictCasesDeaths
1Munger911
2Patna390
3Varanasi371
4Nalanda350
5Rohtas310
6Siwan300
7Buxar250
8Kaimur140
9Gopalganj120
10Begusarai90
11Bhojpur90
12Aurangabad70
13Gaya60
14Bhagalpur50
15Purba50
16Madhubani50
17Lakhisarai40
18Saran40
19Nawada40
20Arwal40
21Vaishali31
22Banka20
23Purba Champaran10
24Madhopura10
25Jehanabad10
26Purnia10
27Dharbanga10

मुजफ्फरपुर में चमकी ने फिर दी दस्तक
दो जुड़वा वहनो की हुई मौत

बिहार सें कुदरत भी नाराज है, पहले मोतिहारी में चमकी ने दी दस्तक, लेकिन वहा कोई नुकसान नही हुआ। लेकिन मंगलवार को मुजफ्फरपुर के एसकेएमसीएच में मुशहरी प्रखंड के चक्की सुहागपुर गांव की दो जुड़वा बहने चमकी बुखार के कारण दम तोड़ दी, दोनो के मरने के बाद मुजफ्फरपुर में फिर हड़कंप मच गया है, हालांकि मुजफ्फरपुर के डीएम ने मोतिहारी में आए केस के बाद अधिकारियों को इसके रोक थाम के लिए प्रचार करने का आदेश दिए थे, लेकिन पिछले साल भी बारिश के समय ही चमकी ने दस्तक दी थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here