बिहार में स्कूल बंद करने का निर्णय आपदा विभाग देगी

0
203

बोले बिहार के शिक्षा मंत्री विजय चौधरी

बिहार के शिक्षा मंत्री विजय कुमार चौधरी ने रविवार को बताया कि राज्य में कोरोना के बढ़ते मामलों के मद्देनजर स्कूलों को बंद करने पर फैसला आपदा प्रबंधन समूह की बैठक में लिया जाएगा। फिलहाल, कोरोना के प्रसाद पर नजर रखी जा रही है। स्कूलों के संचालन व्यवस्था की भी सतत निगरानी हो रही है। इस बारे में जिलाधिकारियों को पहले से दिशा-निर्देश भी है। बता दें कि पिछले एक हफ्ते में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए नई गाइडलाइन में सख्ती की जा सकती है। राज्य में अनलाक का 11वां फेज चल रहा है। पुरानी गाइडलाइन बुधवार पांच जनवरी तक लागू है। कहा जा रहा है सोमवार को आपदा प्रबंधन समूह की बैठक में पाबंदी को आगे बढ़ाया जा सकता है। अगर ऐसा होता है तो नया आदेश छह जनवरी से लागू किया जाएगा। 

सरकार बच्चों की सुरक्षा को दे रही प्राथमिकता

बिहार के शिक्षा मंत्री विजय कुमार चौधरी ने कहा कि सरकार बच्चों की सुरक्षा को सर्वोच्च प्राथमिकता दे रही है और इसे लेकर गंभीर है। साथ ही बच्चों की पढ़ाई पर भी फोकस कर रही है। यदि कोरोना संक्रमण को लेकर ऐसी कोई परिस्थिति पैदा हुई तो बच्चों की सुरक्षा को ध्यान रखते हुए तत्काल फैसला भी लिया जाएगा। राज्य सरकार की ओर से पहले से सभी शिक्षण संस्थानों और स्कूलों को कोरोना प्रोटोकाल का सख्ती से अनुपालन करने का निर्देश जारी कर चुकी है। मास्क का इस्तेमाल और शारीरिक दूरी जरूरी है। भीड़भाड़ से बचना चाहिए। बता दें कि रविवार को बिहार के कई जिलों में आठवीं तक के सरकारी और निजी स्कूल बंद कर दिए गए हैं। राजधानी पटना में आठ जनवरी तक स्कूलों बंद करने का आदेश दिया गया है। हालांकि डीएम के द्वारा जारी पत्र में ठंड के प्रकोप से विद्यालयों को बंद करने के आदेश दिए गए हैं। सोमवार से ये आदेश लागू होगा। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here