बिहार में कोरोना का आंकड़े हुए 182

0
284

बिहारशरीफ में 5 नए मरीज, हड़कंप
पीएम मोदी की बात मान गए होते और बिहार में लाॅक का अनुपालन हुआ होता तो बढ़ रहे कोरोना का आंकड़े थम गए होते। बिहार में कोरोना के खौफ से लोग सहम सा गए है, कोरोना बम क मास्टर मौलाना साद तो पकड़े नही गए, लेकिन बिहार के लोग जमातियों के आतंक से नर्भस है, हालांकि बिहार पुलिस के जवान धर्म स्ािलो पर कंधो पे संगीन टांगे ड्यिूटी बजाते तो देखे जा रहे है, लेकिन यह पहले किया गया होता अंजाम कुछ और होता, फिलहाल बिहार में कोरोना मरीजो के आंकड़े रोज बढ़ रहे है, 200 के आंकड़े पार करने में सिर्फ 18 कम रह गए है, बिहार के अररिया नालंदा, सीवान, बेगुसराय, और पटना तो पूर्व में कोरोना का हाॅट स्पाॅट घोषित किए गए है, बिहारशरफ भी नंबर में आ गए है, बिहारशरीफ में शुक्रवार को एक साथ कोरोना के तीन पाॅजेटिव मरीज पाए गए है, वहा के आंकड़े बढ़े 10 हो गए है, बिहार के कोरोना मरीजो के आंकड़े पर गौर करे तो 19 अप्रैल को सिर्फ 10 नए मरीज सामने आए थे, 20 को 17, 21 को 13, 22 को फिर 17 कोरोना के नए मरीज सामने आए, लेकिन बिहार के लिए 23 अप्रैल का दिन भी बेहतर नही रहा, उस दिन कोरोना के 15 नए मरीज मिले। मोतिहारी में फिलहाल एक कोरोना पाॅजेटिव है, मुजपफरपुर में 241 ने लेकिन उसमें सभी की रिपोर्ट पाॅजेटिव आए, एक का टेस्ट आना शेष है, राजद नेता सह वरिष्ठ अधिवक्ता रजनीकांत ने कहा, राज्य सरकार आए खुफिया रिपोर्ट पर अलर्ट हो गया होता तो कोरोना के मरीजो के आंकड़े नही बढ़ते।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here