बदमाशो ने धमेन्द्र की कर दी निर्मम हत्या

0
30

चालक कैदी को लेकर गया था पटना
मंगलवार की सुबह अज्ञात बदमाशों ने मंडल कारा के एम्बुलेंस चालक महमदपुर वार्ड 38 निवासी पन्नू रजक के 40 वर्षीय पुत्र धर्मेन्द्र रजक की निर्मम हत्या कर दी। सदर अस्पताल में इलाजरत कैदी को पटना पीएचसीएच पहुंचा कर लौटने के दौरान उक्त घटना हुई। नगर थाने के टाइगर मोबाइल के जवानों ने तड़के तीन बजे नगर थाना क्षेत्र के ज्ञानभारती स्कूल के समीप लहूलुहान अवस्था में शव देख कर जेल प्रशासन को जानकारी दी। मौके पर पहुंचे जेल अधीक्षक बृजेश कुमार मेहता ने इलाज के लिए उसे निजी अस्पताल में भर्ती कराया। रेफर किए जाने के बाद चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। हत्यारों ने एम्बुलेंस चालक के हाथ पैर बांध कर कलाई की नस काट दी और गला दबाकर हत्या कर दी। पुलिस को मौके से प्लास्टिक की रस्सी, बोतल समेत कई अन्य सामान मिले हैं। हत्या से आक्रोशित स्वजन समेत ग्रामीणों ने सदर अस्पताल में पोस्टमॉर्टम के बाद न्याय की फरियाद व जेल प्रशासन पर उदासीनता का आरोप लगाते हुए समाहरणालय का मुख्य द्वारा जाम कर दिया। कार्यालय पहुुुंचे डीएम अरविंद कुमार वर्मा को समाहरणालय द्वारा पर करीब पांच मिनट इंतजार करना पड़ा। लोगों को आक्रोश देखते हुए डीएम ने मृतक के पुत्र संजीत कुमार समेत पांच लोगों को वार्ता के लिए बुलाया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here