नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी मिले सीएम नीतीश कुमार से

0
384

बिहार विधान मंडल के मानसून सत्र के आखिरी दिन बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्‍वी यादव  ने खास तौर पर मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार  से उनके दफ्तर में जाकर मुलाकात की। नेता प्रतिपक्ष के साथ उनके बड़े भाई तेज प्रताप यादव  और महागठबंधन के और भी कई नेता थे। इस दौरान उन्‍होंने जातीय जनगणना  के मसले पर सीएम को केंद्र सरकार के सामने आवाज उठाने का आग्रह किया। तेजस्‍वी ने कहा कि मुख्‍यमंत्री यह बात प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तक पहुंचाएं। वही दूसरी ओर आरजेडी के वरिष्‍ठ नेता सह वरीय अधिवक्‍ता रजनीकांत यादव ने नेता प्रतिपक्ष की बातो का समर्थन करते हुए कहा, जब सीएम जातीय जनगणना को लेकर प्रतिपक्ष के नेता के साथ है तो फिर केंद्र सरकार से इस मसले पर बात करने से हिचक कैसीा

जाति आधारित जनगणना पर बात करना चाहते हैं तेजस्‍वी

राजद नेता तेजस्‍वी यादव ने मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार से मुलाकात का समय मांगा था। दरअसल इस मसले पर राजद और जदयू दोनों ही दलों की राय लगभग एक जैसी है। दोनों ही दलों ने जाति आधारित जनणना के लिए आवाज उठाई है। तेजस्‍वी का कहना है कि अगर केंद्र सरकार जाति आधारित जनगणना नहीं कराती है तो राज्‍य सरकार को अपने खर्चे पर ऐसा कराना चाहिए। जदयू भी जनगणना में जाति का कालम शामिल करने की मांग कर रहा है।

भाजपा का रूख जदयू और राजद से अलग

जाति आधारित जनगणना कराने पर भाजपा  का रूख जदयू  और राजद से अलग है। भाजपा के बड़े नेताओं ने इस पर कोई बयान नहीं दिया है। पार्टी इस मुद्दे पर केंद्र के फैसले के साथ दिख रही है। पार्टी के कुछ नेता इस पर बयान भी दे चुके हैं। जदयू का कहना है कि इस मसले पर दो बार बिहार विधानमंडल से प्रस्‍ताव पारित कर केंद्र सरकार को भेजा गया है। केंद्र को अपने फैसले पर पुनर्विचार करना चाहिए।

मानसून सत्र का हुआ समापन

आज बिहार विधानमंडल के मानसून सत्र  का आखिरी दिन है। पांच दिनों का यह संक्षिप्‍त सत्र आज खत्‍म हो रहा है। सत्र के दौरान सत्‍ता पक्ष और विपक्ष के बीच तल्‍ख‍ियां तो रहीं, लेकिन वैसी नहीं जैसी बजट सत्र  के दौरान देखने को मिली थी। सत्‍ता और विपक्ष के दो प्रमुख चेहरों के बीच एक ऐसे मुद्दे पर बात होनी है, जिस पर दोनों ही लगभग एकमत हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here