नीतीश सरकार की संवेदना मर चुकी है

0
184

बोले प्रतिपक्ष के नेता तेजस्वी यादव
नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने ट्वीट कर कहा, नीतीश सरकार की संवेदना मर चुकी है? सत्ता संरक्षित और संपोषित हत्यारों ने तांडव मचा रखा है। अपराधियों के हौसले इतने बुलंद हैं कि इत्मीनान से नाचते हुए वो एक-एक आदमी पर 27 गोलियां दागते हैं, क्योंकि वो जानते है उन्हें बचाने वाला पटना में बैठा है।
कानून पर व्यवस्था उठाए सवाल
राज्य में बढ़ती आपराधिक घटनाओं और जहरीली शराब से मौत के मामलों को लेकर तेजस्वी यादव लगातार राज्य सरकार पर सवाल उठा रहे हैं। इससे पहले उन्होंने ट्वीट कर कहा, बिहार में घर से निकलना नहीं बाहर है क्योंकि अपराधियों का कहर है। चहुंओर नृशंस नरसंहार है, लाशों का ढ़ेर अपार है, सुशासन अपरंपार है। पुलिस निर्दोष का फोड़ती कपार है, जहरीली शराब की बहती बयार है, अपराध के डबल इंजन की बहार है, हां भैया, यही तो असली नीतीशे कुमार है।
बदमाशों ने की पंद्रह से ज्यादा राउंड फायरिंग
बाइक सवार बदमाशों ने राजद नेता पर ताबड़तोड़ फायरिंग की। गोली लगते ही वे जमीन पर गिर पड़े। चीखने की आवाज सुनकर आसपास के लोग पहुंचे और पुलिस को सूचना दी। तबतक उनकी मौके पर ही मौत हो चुकी थी। प्रत्यक्षदर्शी बताते हैं कि बदमाशों ने बूबना की हत्या के दौरान पंद्रह से अधिक राउंड गोलियां चलायी। तीन से अधिक गोली उनके शरीर में लगी है। फिर पुलिस कहती है कि कुछ नही हुआ है, वही दूसरी ओर आरजेडी के वरिष्ठ नेता सह वरीय अधिवक्ता रजनीकांत यादव ने कहा, नीतीश राज में अपराधियों के हौसले बुलंद है, किसी हत्या होना अब आम बात है, क्योंकि बिहार के लोगो का पुलिस से भरोसा उठ चुका है, कातिल थाने में बैठते है, लेकिन पुलिस उसे कुछ नही कर पड़ पाती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here