नही पकड़ना चाहिए गरीबो के मसीहा पप्पु को

0
27

बोले जेडीयू नेता मोनाजिर हसन
जेडीयू के वरिष्ठ नेता मोनाजिर हसन ने पटना में बुधवार को पत्रकारो से बात करते हुए कहा जन अधिकार पार्टी (जाप) के राष्ट्रीय अध्यक्ष और पूर्व सांसद पप्पू यादव को गिरफ्तार नही करना चाहिए, वे गरीबो के मसीहा है, वे अपने ही नेता मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के खिलाफ हो गए हैं। सीएम के करीबी और जेडीयू नेता मोनाजिर हसन का कहना है कि पप्पू यादव की गिरफ्तारी की जितनी निंदा की जाए वो कम है। वे गरीबों के मसीहा के तौर पर काम कर रहे थे। जेडीयू नेता हसन ने कहा कि गिरफ्तारी तो छपरा के डीएम और बीजेपी सांसद राजीव प्रताप रूडी की होनी चाहिए थी। पप्पू यादव मुश्किल समय में गरीबों की मदद कर रहे थे। उनकी गिरफ्तारी निंदा का विषय है। वहीं दूसरे जेडीयू नेता विजयेंद्र यादव ने भी पप्पू यादव की गिरफ्तारी पर कड़ी प्रतिक्रिया जाहिर की है। विजयेंद्र यादव ने पूर्व सांसद की गिरफ्तारी को गलत बताते हुए कहा कि मानवता के आधार पर राजीव प्रताप रूडी को एक मिनट भी सांसद बने रहने का अधिकार नहीं है। पप्पू यादव को मानवता के आधार पर छोड़ देना चाहिए। एंबुलेंस मामले की जांच करके डीएम को बर्खास्त और सांसद को इस्तीफा देना चाहिए। दूसरी ओर बीजेपी एमएलसी रजनीश कुमार ने पप्पू यादव की गिरफ्तारी को दुर्भाग्यपूर्ण बताते हुए उन्हें तुरंत रिहा करने की मांग की है। इसके अलावा बिहार एनडीए में शामिल हम और वीआईपी पार्टी के अध्यक्षों जीतन राम मांझी और मुकेश साहनी पहले ही यादव की गिरफ्तारी का विरोध कर चुके हैं।
बता दें कि जाप अध्यक्ष पप्पू यादव को मंगलवार को राजधानी पटना से गिरफ्तार किया गया था। उन्हें 32 साल पुराने किडनैपिंग और हत्या के मामले में गिरफ्तार किया गया है। मधेपुरा में दर्ज मामले में उनकी गिरफ्तारी की गई है। उन्हें पटना से मधेपुरा लाया गया, जहां कोर्ट ने उन्हें 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेज दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here