दिल्ली में लालू के बडे लाल तेजप्रताप  भिड गए श्याम रजक से  

0
88

दोनो गए थे आरजेडी के कार्यकारणी की बैठक में

पटना, सच क्‍या है यह तो आरजेडी के महासचिव श्‍याम रजक या लालू के बडे लाल मंत्री तेजप्रताप यादव ही जानते होंगे, लेकिन दिल्‍ली में बैठक के दौरान जो कुछ हुआ, वह वेहद शर्मनाक है,  राष्ट्रीय जनता दल की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में लालू प्रसाद यादव के बडे लाल तेज प्रताप यादव  ने हाई वोल्‍टेज ड्रामा खड़ा कर दिया। दिल्ली में हो रही इस हाई लेवल बैठक में उनकी पार्टी के राष्‍ट्रीय महासचिव श्‍याम रजक से भिड़त हो गई। बैठक से निकलकर तेज प्रताप ने उनपर बहन की गाली देने का आरोप लगाया। हालांकि, श्‍याम रजक ने कहा कि उनकी अपनी पार्टी है, वे जो चाहें, आरोप लगाएं। विदित हो कि श्‍याम रजक पहले जेडीयू थे, और नीतीश सरकार में काबिना मंत्री भी रह चुके है, इसके बाद तनाव में वे बेहोश हो गए। आगे कल की बैठक में लालू प्रसाद यादव को पार्टी के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष की औपचारिक रूप से फिर से कमान दी जाएगी। पार्टी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तथा बीजेपी को निशाने पर लेगी।

बैठक में कई बडे नेता  हुए शामिल 

आज की बैठक में पार्टी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव तथा बिहार के डिप्‍टी सीएम तेजस्‍वी यादव सहित पार्टी के तमाम बड़े नेता व 24 राज्यों के आरजेडी प्रदेश अध्यक्ष भी शामिल रहे। बैठक में लालू प्रसाद यादव का स्‍वागत किया गया। बताया जाता है कि तेज प्रताप व श्‍याम रजक के बीच बवाल की घटना उनकी मौजूदगी में हुई। खास बात यह भी कि आरजेडी की आधार-भूमि बिहार के पार्टी प्रदेश अध्‍यक्ष व लालू प्रसाद यादव के करीबी जगदानंद सिंह ही बैठक में शामिल नहीं हुए, पार्टी में नाराज चल रहे जगदानंद अभी तक दिल्‍ली नहीं पहुंचे हैं। इस बीच पार्टी के प्रवक्‍ता शक्ति यादव ने जगदानंद की नाराजगी को खारिज करते हुए कहा है कि वे बीमार हैं।

निवर्तमान आरजेडी कार्यकारिणी की हुई बैठक

आज नई दिल्ली के एनडीएमसी कन्वेंशन सेंटर में निवर्तमान आरजेडी कार्यकारिणी की बैठक में राष्ट्रीय परिषद की बैठक और पार्टी के खुले अधिवेशन के प्रस्तावों पर चर्चा हुई। इसके बाद कल नई दिल्ली के तालकटोरा स्टेडियम में आरजेडी राष्ट्रीय परिषद की बैठक में लालू प्रसाद यादव को पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष का प्रमाण पत्र दिया जाएगा। फिर, नए राष्ट्रीय अध्यक्ष की अध्यक्षता में खुला अधिवेशन आजोजित किया जाएगा। राष्ट्रीय कार्यकारिणी के प्रस्तावों पर भी विचार किया जाएगा।

बीजेपी के खिलाफ विपक्षी एकजुटता का आह्वान

मिली जानकारी के अनुसार बैठक में सांप्रदायिकता के खिलाफ कोई समझौता नहीं करने का संकल्प पारित किया जाएगा। जाएगा। साथ ही बीजेपी के खिलाफ सभी मदभेदों को भूलकर विपक्षी एकजुटता का आह्वान भी किया जाएगा।

पीएम मोदी की सरकार की नीतियों की आलोचना

आरजेडी आर्थिक और विदेशी नीति से जुड़े प्रस्ताव भी पारित करेगी। आर्थिक प्रस्ताव में बीजेपी की आर्थिक नीति की आलोचना की जाएगी। आरजेडी ने इसके तहत दिल्ली में तैयार नए ससंद भवन सेन्ट्रल विस्टा को अनुपयोगी बताया है। आरजेडी ने यह भी कहा है कि बीजेपी की गलत नीतियों के कारण देश का रिजर्व फंड लगातार कम हो रहा है। विदेश नीति से जुड़े प्रस्ताव में आरजेडी ने नरेंद्र मोदी की सरकार की पड़ोस के देशों के साथ सामान्य संबंध नहीं रखने के कारण देश को नुकसान का आरोप लगाया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here