तो उठने लगी मरकज पर प्रतिबंध की मांग

0
193

पटना (बिहार)। मार्च के दूसरे हफ्ते में दिल्ली के निजामुद्दीन इलाके में आयोजित एक मजहबी जलसे के बाद धार्मिक संगठन तबलीगी जमात का मरकज (मुख्यालय) इसका हॉटस्पॉट बनकर उभरा है। इस कार्यक्रम में शरीक होने वाले लोगों की एक बड़ी संख्या कोरोना वायरस से संक्रमित पाई गई है। केंद्र सरकार ने माना है कि तबलीगी जमात के लोगों की वजह से देश भर में कोरोना वायरस के संक्रमण की रफ्तार दिन पे दिन बढ़ती जा रही है। रूद्र शक्ति सेना सामाजिक संगठन के राष्ट्रीय सचिव रणवीर हिंदू जी का कहना है कि तबलीगी जमात और उसके मरकज की वजह से देश कोरोना संकट का आज सामना कर रहा है। उन्होंने कहा, ष्इस पर प्रतिबंध लगाया आवश्यक हो गया है, और इसके खाते को भी सील किया जाना चाहिए। हालांकि तबलीगी जमात ने प्रेस रिलीज भी जारी करके ये बताया था कि जनता कर्फ्यू के एलान के साथ ही उन्होंने अपना धार्मिक कार्यक्रम रोक दिया था। लेकिन पूरी तरह लॉकडाउन की घोषणा होने के कारण बड़ी संख्या में आए लोग वापस नहीं जा सके।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here