चीफ जस्टिस ने किए पटना हाईकोर्ट के नए भवन का उद्घाटन

0
148

मौके पर मौजूद थे सीएम और कानून मंत्री
पटना हाईकोर्ट के नवनिर्मित शताब्दी भवन बनकर तैयार है। शनिवार को भारत के चीफ जस्टिस शरद अरविंद बोबडे ने फीता काटकर इस भवन का उद्घाटन किया। उद्घाटन कार्यक्रम में भाग लेने के लिए बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार भी पहुंचे हैं। इस कार्यक्रम में शिरकत करने के लिए सुप्रीम कोर्ट के कई जज और देश भर के हाईकोर्ट के जज के अलावा बिहार के एडवोकेट जनरल ललित किशोर और केंद्रीय कानून और न्याय मंत्री रविशंकर प्रसाद भी मौजूद हैं। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार चीफ जस्टिस शरद अरविंद बोबडे को गार्ड ऑफ ऑनर दिया। कार्यक्रम में अपने संबोधन में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि कोरोना का दौर नहीं आता तो पिछले ही वर्ष इस नए भवन का उद्घाटन हो जाता। मेरे लिए यह खुशी की बात है कि इस भवन के लिए शिलान्यास मैंने किया था और इसके लोकार्पण समारोह में भी मैं मौजूद हूं। पुराने भवन के अनुरूप विस्तारित भवन बना है। 203 करोड़ 94 लाख रुपए खर्च हुए हैं । यह पांच तल का है। दोनों भवन जुड़े हुए हैं। न्यायायल कक्ष- 43, छह कमेटी रुम, 90 लोगों के बैठने के लिए हॉल,129 गाडियों की पार्किंग आदि की व्यवस्था है। सीएम ने कहा कि जब हमारी सरकार बनी तो उस समय 2006 में पटना हाईकोर्ट में भी मिटिंग की गई और अपराध पर नियंत्रण और उसके लिए प्रयास किया गया। एक -एक जिले पर नजर रहती थी कि तेजी से ट्रायल हो। अपराध करने वालों पर जितने फैसले हुए उससे कई लोगों को सजा मिली। अपराध पर नियंत्रण हुआ। न्यायालय से सजा मिलने पर बिहार में क्राइम घटा। इसके बावजूद समाज में कुछ लोगों की मानसिकता गड़बड़ होती है। वे कुछ न कुछ करते रहते हैं। हम प्रार्थना करेंगे कि ट्रायल का काम तेजी से होता रहेगा तो अपराध पर नियंत्रण होता रहेगा। अपराध नियंत्रण सिर्फ सरकार का काम नहीं है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here