कोरोना के आफत में फंसे वित रहित कर्मियों

0
150

भूखे पेट रहने को मजबूर
लाॅक डाउन में एक तरफ भूखे लोगो के लिए सरकार ने तो खजाना खोल दिया, लेकिन उन वित रहित कर्मियों का क्या होगा, जिन्हें सरकार अनुदान के सिवा कुछ नही देती। वैसे तो संपूर्ण भारत कोरोना संकट से जुझ रहा है, राज्य सरकार ने वित रहित डिग्री और इंटर काॅलेजो छात्रो के हिसाब से अनुदान देती है, कुछ एमएलसी ने अनुदान का सवाल सदन में उठाए थे, शिक्षा मंत्री ने काॅलेजो को मार्च महीने के अंत तक अनुदान भेज देना का वादा तो किया, लेकिन इस आफत में काॅलेजो नही दिए गए अनुदान। इस सवाल को लेकर विप सदस्य देवेश चंद्र ठाकुर और संजय सिंह ने सरकार को लिखा, लेकिन काॅलेजो में नही आए अनुदान। राजद नेता सह वरिष्ठ अधिवक्ता रजनीकांत यादव ने शिक्षा मंत्री को चेताते हुए कहा कि भूख से अगर कोई कर्मी मरा तो अंजाम ठीक नही होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here