एसकेएमसीएच की सरंचना जल्द सुधरेगी

0
127

बोले हेल्थ मंत्री मंगल पांडे
राज्य के स्वास्थ मंत्री मंगल पांडे ने पटना में रविवार को पत्रकारो से बात करते हुए कहा, चमकी बुखार ज्यादतर छोटे बच्चे को होती है, चमकी से लड़ने के लिए विभाग तैयार है, चमकी बुखार का असर ज्यादात राज्य के दो जिले मुजपफरपुर और मोतिहारी में होता है, अधिकारियों को मुजपफरपुर के एसकेएमसीएच के सरंचनाओ में और सुधार करने का आदेश दिए गए है, बिहार में शिशु मृत्यु दर 32 हो गए है, जो काफी कम ह, 2005 की व्यवस्था और वर्तमान में काफी अंतर आए है, राज्य के अधिकांश अस्पतालो में प्राइ्रवेट एम्बुलेंस की संख्या बढ़ा दी गई है, समाज का विश्वास अस्पतालो पर बढ़ा है, वैसे राज्य के 12 जिले चमकी से प्रभावित है, उसमें ज्यादा मुजपफरपुर है, सामन्यत चमकी बुखार का ज्यादा शिकार गरीबो के बच्चे हाते है, अस्पताल के सभी अधीक्षको को उनके उपचार में कोई कोताही नही बरतने का आदेश दिए गए है, राज्य सरकार ने चमकी के इलाज के लिए जो व्यवस्था दी है, अब किसी को इलाज के लिए बाहर नही जाना होना।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here