इंडियन बैंक(इलाहाबाद बैंक) के ब्रांच मैनेजर ने ऋणियो से की बदसलूकी

0
623
pic

सैयद जाहिद ने की सीजेएम कोर्ट में मुकदमा

INAD1

केंद्र सरकार ने कोरोना काल में ऋणियों के लिए तो कई सुविधाए घोषित तो कर दी, लेकिन कई बैंक अधिकारियों ने इस दौरान ऋणियों को बख्‍सने के बदले और शिकंजा कस दिया, कई बैंक ने तो जांच किया नही और जांच के नाम पर ऋणियो के खाते से जबरन राशि निकाल लिए, सैयद जाहिद अहसन जो ग्राम छीट भगवानपुर थाना याहियापुर के रहने वाले है, उन्‍होंने व्‍यवसाय के लिए जमीन गिरबी रखके बैंक से इलाहाबाद बैंक जो वर्तमान में इंडियन बैंक में मर्ज है, वहा से 950000 ऋण लिया, जिसे सधा भी रहा था, लेकिन अचानक कोरोना काल में दुकाने बंद हो गई तो दुकाने टूट गई, फिर भी सैयद जाहिद ऋण की राशि अदा करता रहा, सैयद ने बैंक अधिकारियों के बदसलूकी के खिलाफ मुजफरपुर के मुख्‍य न्‍याययिक दंडाधिकारी की न्‍यायलय में धारा 323, 499 और 500 के तहत एक मुकदमा दायर की है, सुनिए उनके वरिष्‍ठ अधिवक्‍ताओ अखौरी विवेक रंजन सहाय से बैंक के शाखा प्रबंधक की हरकतो की कहानी, उनके साथ वरीय अधिवक्‍ता रजनीकांत यादव भी मौजूद है, देखे नीचे वीडियो

[vplayer id=’5899′]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here